Top 100+ Sad Shayari in Hindi of 2019 with Images

Sad Shayari: Here We Will Provide You Some Best And Special Collection Of Sad Shayari Which You Can Share On WhatsApp, Facebook & Instagram. Scroll Down To See

sad shayari in hindi
sad shayari in hindi

Sad Shayari In Hindi

1. ज़िन्दगी की कशमकश से परेशान बहुत है,
दिल को न उलझाओ ये नादान बहुत है।

2. यूं सामने आ जाने पर कतरा के गुजरना,
वादे से मुकर जाना उसे आसान बहुत है।

3. यादें भी हैं, तल्खी भी है, और है मोहब्बत,
तू ने जो दिया दर्द का सामान बहुत है।

4. अश्क कभी, लहू कभी, आँख से बरसे,
बेदाग़ मोहब्बत का ये अंजाम बहुत है।

5. तूने तो सुना होगा मेरे दिल का धड़कना,
छूकर भी देख लेना ये बेजान बहुत है।

6. बहुत तड़प लिए अब उससे बिछड़ कर,
पा जाएँ खोने वाले को अरमान बहुत है।

7. Bewaqt Bewajah Besabab Si Berukhi Teri,
Phir Bhi Beinteha Chahne Ki Bebasi Meri.
बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतहा तुझे चाहने की बेबसी मेरी।

8. Dekhi Hai Berukhi Ki Aaj Humne Intehaan,
Hum Pe Najar Padi Toh Mehfil Se Uthh Gaye.
देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

9. यह कह कर मेरा दुश्मन मुझे हँसता छोड़ गया,
कि तेरे अपने ही बहुत हैं तुझे रुलाने के लिए।

10. सिर्फ चेहरे की उदासी से
भर आये तेरी आँखों में आँसू,
मेरे दिल का क्या आलम है
ये तो तू अभी जानता नहीं।

11. उसकी आँखों से भी बरसता है सावन अब,
मेरे भी चेहरे पर भी उदासियों के जंगल है।

12. कौन किसे दिल में जगह देता है,
पेड़ भी अपने सूखे पत्ते गिरा देता है,
वाक़िफ़ हैं हम दुनिया के रिवाजों से,
जी भर जाए तो हर कोई भुला देता हैं।

13. Ja Kabhi Fursat Mile Mere Dil Ka Bojh Utaar Do,
Main Bahut Dino Se Udaas Hoon Mujhe Koi Shaam Udhhar Do.
जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार दो,
मैं बहुत दिनों से उदास हूँ मुझे कोई शाम उधार दो।

14. Udaas Dil Hai Magar Milta Hoon Har Ek Se HansKar,
Yahi Ek Fann Seekha Hai Bahut Kuchh Kho Dene Ke Baad.
उदास दिल है मगर मिलता हूँ हर एक से हँस कर,
यही एक फन सीखा है बहुत कुछ खो देने के बाद।

15. Mijaaz Ko Bas Talkhiyan Hi Raas Aayin,
Humne Kayi Baar Muskura Ke Dekh Liya.
मिजाज को बस तल्खियाँ ही रास आईं,
हम ने कई बार मुस्कुरा कर देख लिया।

16. Apni Hi Mohabbat Se Mukarna Pada Mujhe,
Jab Dekh Use Rota Kisi Aur Ke Liye.
अपनी ही मोहब्बत से मुकरना पड़ा मुझे,
जब देखा उसे रोता किसी और के लिए।

17. Meri Jagah Koi Aur Ho Toh Cheekh Uthhe,
Main Apne Aap Se Itne Sawaal Karta Hoon.
मेरी जगह कोई और हो तो चीख उठे,
मैं अपने आप से इतने सवाल करता हूँ।

18. Yakeen Tha Ke Tum Bhool Jaaoge Mujhko,
Khushi Hai Ke Tum Ummeed Par Khare Utre.
यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझको,
खुशी है कि तुम उम्मीद पर खरे उतरे।

19. Anjaam-e-Wafa Ye Hai Jisne Bhi Mohabbat Ki,
Marne Ki Duaa Maangi Jeene Ki Sazaa Payi.
अंजाम-ए-वफ़ा ये है जिसने भी मोहब्बत की,
मरने की दुआ माँगी जीने की सज़ा पाई।

20. Kya Khoob Hi Hota Agar Dukh Ret Ke Hote,
Muththhi Se Gira Dete Pairon Se Uda Dete.
क्या खूब ही होता अगर दुख रेत के होते,
मुठ्ठी से गिरा देते… पैरो से उड़ा देते।

21. chalne kā hausla nahīñ ruknā muhāl kar diyā
ishq ke is safar ne to mujh ko niDhāl kar diyā

22. dīvāroñ se mil kar ronā achchhā lagtā hai
ham bhī pāgal ho jā.eñge aisā lagtā hai

Read More  Heart Touching True Love Shayari In Hindi

23. ham to kuchh der hañs bhī lete haiñ
dil hamesha udaas rahtā hai

24. hamāre ghar kā patā pūchhne se kyā hāsil
udāsiyoñ kī koī shahriyat nahīñ hotī

25. kabhī ḳhud pe kabhī hālāt pe ronā aayā
baat niklī to har ik baat pe ronā aayā

26. kar rahā thā ġham-e-jahāñ kā hisāb
aaj tum yaad be-hisāb aa.e

27. kisī ke tum ho kisī kā ḳhudā hai duniyā meñ
mire nasīb meñ tum bhī nahīñ ḳhudā bhī nahīñ

28. mujh se bichhaḌ ke tū bhī to ro.egā umr bhar
ye soch le ki maiñ bhī tirī ḳhvāhishoñ meñ huuñ

29. mujhe tanhā.ī kī aadat hai merī baat chhoḌeñ
ye liije aap kā ghar aa gayā hai haat chhoḌeñ

30. raat aa kar guzar bhī jaatī hai
ik hamārī sahar nahīñ hotī

31. terā milnā ḳhushī kī baat sahī
tujh se mil kar udaas rahtā huuñ

32. tum kyā jaano apne aap se kitnā maiñ sharminda huuñ
chhūT gayā hai saath tumhārā aur abhī tak zinda huuñ

33. tum mujhe chhoḌ ke jāoge to mar jā.ūñgā
yuuñ karo jaane se pahle mujhe pāgal kar do

34. us ne pūchā thā kyā haal hai
aur maiñ sochtā rah gayā

35. vo baat soch ke maiñ jis ko muddatoñ jiitā
bichhaḌte vaqt batāne kī kyā zarūrat thī

36. vo to ġhazal sunā ke akelā khaḌā rahā
sab apne apne chāhne vāloñ meñ kho ga.e

37. आई थी वो ऐसे कि, दिल में समा कर चली गई, सो रहा था चैन से मैं, कि वो जगा कर चली गई …

38. मत पूछ ज़िन्दगी कैसे गुजरती है तन्हाई में, आँखों से बरसते हैं आँसू उनकी जुदाई में, न जाने किस जुर्म की …

39. ख़त जो लिखा मैनें वफादारी के पते पर, डाकिया ही चल बसा 😞 शहर ढूंढ़ते ढूंढ़ते मरने के …

40. मायने ज़िन्दगी के बदल गये अब तो,
कई अपने मेरे बदल गये अब तो,
करते थे बात आँधियों में साथ देने की..
हवा चली और सब मुकर गये अब तो। 😔

41. Maayane zindagi ke badal gaye ab to,
kai apne mere badal gaye ab to,
karte the baat aandhiyon mein sath dene ki..
hava chali aur sab mukar gaye ab to

42. गर शौक चढ़ा है इश्क़ का तो इम्तेहान देना तुम, बारिश में भी मेरे अश्क़ों को पहचान लेना तुम।

43. ताज्जुब है तेरी गहरी मुहब्बत पर,
तू हमारी रूह में, और हम तेरे वहम ओ गुमान में भी नही.

44. समजने समजाने मे ही गुजर गई तू,
ए जिन्दगी तूजे एकबार भी जी न पाए हम.

45. Is trah tum ny mujhy chor diya…
Jesy koi rasta gunnah ka ho……!!

46. Ek Choti Si Galti Par Tu Mujhe Chor Gaya.
Jesy Tu Sadiyon Se Meri Galti Ki Talaash Mehh Tha…!!!

47. Teri wafai ka samundar kisi aur ke liye hoga
Tere sahil se hum to roz pyase he gujar jate hain.

48. Meri Maut par bhi unki aankho me aansoo nahi,
Unhe shak hai mujme jaan abhi baki hai.

49. उसे लगता था कि उसकी चालाकियां हमें समझ नहीं आतीं
हम बड़ी खामोशी से देखते थे उसे अपनी नजरों से गिरते हुए।

50. Wo khud ko samajte he jannt-e-hoor
kon janta tha use meri mohbbat se pahLe.

51. SoCha tha uss se bichrenge to mar jayenge
Jaan lewa khauf tha bas, huwa kuch b nahi..!!

52. दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता;
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता;
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में;
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता

Read More  Top 20 Urdu Shayari From Famous Poets

53. Suna hai abki bar tere sahar me barish nhi hui…
Lagta hai ashiqo ne sabar karna sikh liya hai…!!!

54. Likhne ko toh uski bewafai par ek puri kitaab likh du,
Par fir sochta hu, Jis shaks ne aansu se bhari aankhe
aur rote hue wo shabd naa samjhe,
woh panno par likhi baat kya samjhega.

55. झलक जाने दो पैमाने, महखाने भी क्या याद रखेंगे,
आया था कोई दीवाना, अपनी मोहब्बत को भूलाने.

56. Kiye The Zulm Jinki Khatir Bata Unse kya Paya
Qabr Mein Soona Pada Hai, koi Fatiha Padhne Bhi Na Aaya

57. Nikal Diya Usne Hame apni Zindgi se bheege Kagaz ki trah
Na likhne Ke kabil chora Na padhne ke..!!!

58. Roz rote hue kahti hai zindagi mujh se……
Sirf ek Shakhs ki khatir mujh ko barbaad na kar….!!!

59. Barsoo Baad Mila To Poochny Lage K Tum Kon Ho….!
Bichadte Waqt Jis Ne Kaha Tha K Tum Bohat Yaad Aao Gay॥

60. मसरूफ़ जिंदगी में तेरी याद के सिवा …
आता नहीँ है कोई मेरा हाल पूछने !!

61. हर रात जान बूझकर रखता हूँ दरवाज़ा खुला…
शायद कोई लुटेरा मेरा गम भी लूट ले.

62. Tu Ishq ki doosri Nishani de de Mujhko,
Aansoo to roz gir ke sukh jate hain.

63. “सदमो से कोई “मर नहीं जाता,
तेरे सामने है “मिशाल मेरी.

64. Chhod Diya Hai Kismat Ki Lakiro Par Yakin Karna,
Jab Log Badal Sakte Hai toh Kismat Kya Cheez Hai.

65. उसकी बातों को बार बार याद करके रोये,
उसके लिये दर पे फरियाद करके रोये,
उसकी खुशी के लिये उसको छोड दिया फिर,
उसे किसी ओर के साथ आबाद करके रोये.

66. कब तक तेरे फरेब को हादसे का नाम दूँ,
ऐ इश्क तूने तो मेरा तमाशा बना दिया

67. Zara sa baat karne ka saleeqa seekh lo tum bhi
Idhar tum lub hilate ho udar dil toot jata hai.

68. मोहब्बत की आजतक बस दो ही बातें अधूरी रही,
इक मै तुझे बता नही पाया, और दूसरी तूम समझ नही पाये

69. सामने होते हुए भी तुझसे दूर रहना,
बेबसी की इससे बड़ी मिसाल क्या होगी.

70. Tere Jaane Ke Baad Kaun Rokta Humein….
Jee Bhar Kar Khud Ko BarBaad Kiya Humne.

71. भरोसा ना करना इस दुनिया के लोगों पे
मुझे तबाह करने वाला मेरा बहुत अज़ीज़ था.

72. आँधियों में भी जो जलता हुआ मिल जाएगा..
उस दिये से पूछना, मेरा पता मिल जाएगा..

73. होठों ने सब बातें छुपा कर रखीं,
आँखों को ये हुनर… कभी आया ही नहीं..

74. हालात ने तोड़ दिया हमें कच्चे धागे की तरह…
वरना हमारे वादे भी कभी ज़ंजीर हुआ करते थे..

75. तोङ दिये हैं मैने अपने घर के सभी आईने,
नफरत है मुझे उनसे जो तुझसे मोहब्बत करते हैं.

76. शायरों की महफ़िलों में हम इसलिए भी जाते हैं,
हम से बिछड़ कर शायद वो भी शायर हो गयी हो.

77. Acha hai Jo tu Meri takleef nahin samajti,
Agar samajti toh tuhje bhi takleef hoti,
Aur woh mujhe acha nahin lagta

78. उन्हें क्या पता जो कहते है हर वक़्त रोया ना करो,
मैं कैसे समझाऊं कुछ दर्द सहने के काबिल नही होते.

79. मौसम की पहली बारिश का शौक तुम्हें होगा.
“हम तो रोज किसी की यादो मे भीगें रहते है.

80. मेरे दिल को आवाज देने वाले ये लफ़्ज भी आखिर बेवफ़ा निकले.
सर्दियो कि जरा सी आहट मे ठिठुरना शुरु कर दिए!.

81. कुछ आरजू दिल मै दबी ही रह जाये तो अच्छा है,
ना दिल टूटने का डर ना दिल दुखाने का.

82. हुनर-ओ-इश्क अब सीख कर आया हूँ………
चलो फिर से खेल दिल का खेलते है…..!!

Read More  Top 100 Dard Shayari of 2019

83. हर मुलाक़ात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ ;
हर याद पे दिल का दर्द ताज़ा हुआ .!

84. हाथ ज़ख़्मी हुए तो कुछ अपनी ही खता थी…..
लकीरों को मिटाना चाहा किसी को पाने की खातिर….!

85. हमे पता था की उसकी मोहब्बत में ज़हर हैं ;
पर उसके पिलाने का अंदाज ही इतना प्यारा था की हम ठुकरा ना सके !

86. हमें तो प्यार के दो लफ्ज ही नसीब नहीं,
और बदनाम ऐसे जैसे इश्क के बादशाह थे हम!!

87. हमें ए दिल कहीं ले चल … बड़ा तेरा करम होगा
हमारे दम से है हर गम …न होंगे हम और ना गम होगा

88. बेशक मेरा वक़्त तो कट जाता है तेरे बिना,
बस अब फ़र्क़ सिर्फ़ उतना है उस वक़्त तुम शामिल नही.

89. तेरी पुरानी chats पड़ते वक़्त ख़ुशी तो होती है,
पर जब एहसास होता है की सब खत्म हो गया,
बहुत दुखी हो जाता हूँ.

90. Ishq haraa hai to dil thaam ke kyu bethey ho ,
Tum to har baat pe kehte the “koi baat nahe” ….!!!

91. Kafan ko utha kar deedar kar lo,
Band ho gayi hai woh aankhein jinko tum rulaya karty thy.

92. Wisaal ,Hijr ,wafa ,fikr , dard majboori
zara si umr me kitne zamaney ate hein.

93. हमने तो फिराई थी रेतो पर उंगलिया ,
मुड़ कर देखा तो तुम्हारी “तस्वीर “बन गयी .!!

94. हमसे मत पूछिए जिंदगी के बारे में
अजनबी क्या जाने अजनबी के बारे में

95. हम भी अक़्सर इन फूलो कि तरह तन्हा रहते हैँ..
कभी ख़ुद टूट जाते है, कभी लोग हमे तोड़ जाते है.

96. दुश्मन भी सामने आने से डरते थे,
और. वो पगली दिल से खेल कर चली गई.

97. हर पल मिलन की आस ना लगा ए दिल,
नामुमकीन है उसे पाना तू नही उसके काबिल.

98. साथ आयीं थी सुबह मुस्कुराते मुस्कुराते,
शाम घर को लौटती बुझी बुझी ये ख्वाहिशें.

99. तन्हाई कुछ यूँ राझ आ गई है यारों,
अपने साये से भी हर पल दूर भागता हूँ.

100. जी लेंगे अगर जीना पड़ा तेरे बिना,
लेकिन आज भी तुज पे मर मिटने का ख़्वाब है

1. Mil Bhi Jate Hain Toh Katra Ke Nikal Jate Hain,
Hain Mausam Ki Tarah Log…. Badal Jaate Hain,
Hum Abhi Tak Hain Giraftar-e-Mohabbat Yaaro,
Thokarein Kha Ke Suna Tha Ke Sambhal Jate Hain.

2. सनम बेवफा है,
ये वक्त बेवफा है,
हम शिकवा करें भी तो किस्से,
कमबख्त ज़िन्दगी भी तो वेबफा है।

3. कुछ तन्हाईयां वेबजह नही होतीं,
कुछ दर्द आवाज़ छीन लिया करतें है।

4. ऐ बेवफा सांस लेने से तेरी याद आती है,
ऐ बेवफा सांस न लूँ तो भी मेरी जान जाती है,
मैं कैसे कह दूं कि बस मैं सांस से जिंदा हूँ,
ये सांस भी तो तेरी याद आने के बाद आती है।

5. यह कह कर मेरा दुश्मन मुझे हँसता छोड़ गया,
कि तेरे अपने ही बहुत हैं तुझे रुलाने के लिए।

6. उसकी आँखों से भी बरसता है सावन अब,
मेरे भी चेहरे पर भी उदासियों के जंगल है।

7. Unhin Ke Ishq Me Hum Naala-O-Faryaad Karte Hain
Elaahi Dekhiye Kis Din Hame Wo Yaad Karte Hain

8. Shab-E-Faraaq Me Kia Kia Saanp Lehraate Hain Seene Pe
Tumhari Kakul-E-Peechan Ko Jab Hum Yaad Karte Hain

9. Dekhi Hai Berukhi Ki Aaj Humne Intehaan,
Hum Pe Najar Padi Toh Mehfil Se Uthh Gaye.
देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

10. Ja Kabhi Fursat Mile Mere Dil Ka Bojh Utaar Do,
Main Bahut Dino Se Udaas Hoon Mujhe Koi Shaam Udhhar Do.