Whatsapp Status: 10,000 Best Hindi Status

701. सुन बे दुश्मन‬ तू क्या जानेगा हमारी बदमाशी‬ के आलम जिस उम्र‬ में तूने पतंगे काटी है बेटा‬, उस उम्र में हमने जेल‬ काटी है |

702. एक हम ही है जो गम भी रखते हैं और परमाणु बम्ब भी और तुम पंगा मत लो वरना हम फोड़ने का दम भी रखते हैं।

703. Attitude होने से कुछ नही होता Smile‬ ऐसी दो की हर एक लड़की बोल पड़े ” जग घुमिया थारे जैसा ना कोई |

704. सुन‬ बे लोंडे हम से ‎पंगा और भरी महफ़िल मे दंगा दोनो खतरनाक‬ है |

705. “शेरों”की तरह जीते थे जब तक कमाते नहीं थे जब कमाना शुरु किया जिंदगी “शेरु” की तरह हो गई |

706. देख पगले‬ मैं बिंदास‬ सी लड़की‬ हूँ, ‎अपनी‬ ‎नहीं सुनती‬ तो ‎तेरी‬ क्या सुनुंगी‬ |

707. Status‬ तो तुने हजार‬ पढे होंगे लेकिन मेरा Status 1 बार ही पढा होगा क्योकि यँहा Status Cut-Copy-Paste‬ से नहीं ‎TYPING‬ से बनते हैं |

708. मेरा दिल‬ तोड़ने‬ से पहले‬ मेरे दोस्तो‬ के तरफ देख लेना‬ ‎जानेमन‬, कहीं ऐसा‬ ☝ना हो बिन पैरों घुंघरु‬ मुजरा‬ करना ‎पड़े‬ ।

709. Style‬ ऐसा करो‬ की दुनिया देख़ती‬ जाये‬, और यारी‬ ऐसी करो की दुनिया जलती जाए‬ ।

710. हमारा attitude तो Airtel 4G से भी fast है एक बार click तो करके देख बिना Loading के सीधा दिल में उतर जाऊंगा।

711. शान‬ से जीने‬ का ‎शौंक है, वो तो हम ‎जियेंगे बस तूँ ‬अपने आप‬ को ‎संभाल‬ हम तो यूहीँ ‬चमकते‬ रहेंगे |

712. एक हार से कोई ” फ़क़ीर ” और एक जीत से कोई ” सिकंदर ” नहीं बनता।

713. परेशान ना हुआ करो लोगों की बातों से कुछ लोग पैदा ही बकवास करने के लिए हुए होते हैं।

714. प्यार से बात करोगे तो प्यार ही पाओगे, अगर अकड़ के बात की तो मेरी block list में नज़र आओगे।

715. जब चलना नहीं आता था तो लोग गिरने नहीं देते थे, जब से संभाला है खुद को लोग पैर -पैर पर गिराने की कोशिश करते हैं।

716. दिमाग कहता है मारा जायेगा लेकिन दिल कहता है देखा जाएगा |

717. रेस वो लोग लगाते है जिसे अपनी किस्मत आजमानी हो हम तो वो खिलाडी है जो अपनी किस्मत के साथ खेलते है|

718. मैंने कब कहा कीमत समझो तुम मेरी, हमें बिकना ही होता तो यूँ तन्हा ना होते |

719. तेरे बाद किसी को प्यार से ना देखा हमने, हमें इश्क का शौक है आवारगी का नही |

720. आजकल की Relationship ट्रस्ट से कम, ओर ScreenShot से ज़्यादा चलती है |

721. तुम करो तो ग़लती, हम करे तो बदला |

722. लोग लड़कियों के दिल मे जगह बनाने के लिये दुआ करते है, ओर हम लड़कियों के दिल से निकलने के लिये ।

723. जो आपकी जिंदगी में कील बनकर बार-बार चुभे उसे एक बार हथौड़ी बन कर ठोक दो |

724. हमने तुम्हें उस दिन से और ज़्यादा चाहा है, जबसे मालूम हुआ के तुम हमारे होना नहीं चाहते |

725. किसी को कुछ देने के लिए हैसियत नही नीयत चाहिए |

726. नखरे तो सिर्फ मम्मी पापा उठाते हैं दुनिया वाले तो बस ऊँगली उठाते है |

727. एक दिन ऐसा आएगा तूँ मुझे Request भेजना चाहेगी लेकिन वहाँ सिर्फ एक ही Option होगा Follow me |

728. ‎छोटे थे‬ तो ‎सब‬ ‎नाम‬ से ‎बुलाते थे‬, बड़े हुए‬ तो बस काम‬ से ‎बुलाते है‬ |

729. वो आईना देख मुस्कुरा के बोली बेमौत मरेगा मुझ पर मरने वाला |

730. सुन‬ ‎जितना तू‬ Rude‬ है, उससे ‎ज्यादा‬ तो ‎हमारा Attitude‬ हैं |

731. रोज स्टेटस बदलने से जिंन्दगी नहीं बदलती, जिंदगी को बदलने के लिये एक स्टेटस काफी है |

732. समझदार ही करते है अक्सर गलतिया, कभी देखा है किसी पागल को मोहब्बत करते |

733. लड़किया हमारी बराबरी क्या करेगी जितनी English वो बोलती है उतनी English तो हम पी जाते है |

734. कुंडली में “Shani”, मन में “Money” और हम से “Dushmani” तीनों हानीकारक है |

735. मेरी बराबरी ना कर दोस्त, मेरे status का इन्तजार तो तेरी वाली भी करती है |

736. औकात‬ नही थी इस दुनिया में किसी की जो हमारी कीमत‬ लगा सके लेकिन प्यार में पड गया आखिर और मुफ़्त‬ में खुद बिक गया |

737. जब से मुझे पता चला है कि मेरा आत्मविश्वास मेरे साथ है तबसे मैने ये सोचना बंद कर दिया कि कौन मेरे खिलाफ है |

738. अगर परछाइयाँ कद से और बातें औकात से बड़ी होने लग जाए तो समझ लीजिए सूरज ढलने ही वाला है |

739. दुश्मन‬ हो कितने भी ‎पापी‬ उसके लिए सिर्फ हम अकेले‬ ही काफी |

740. तेवर तो हम वक्त आने पे दिखायेंगे शहर तुम खरीदलो उस पर हुकुमत हम चलायेंगे |

741. कुत्ते भौंकते है अपना वजूद बनाये रखने के लिये और लोगो की खामोशी हमारी मौजूदगी बयाँ करती है ।

742. मेरी ख़ामोशी को कमजोरी ना समझ ऐ काफिर गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है |

743. AττiTυdΣ‬ तो अपना‬ भी ‎खतरनाक‬ है जिसे‬ भुला दिया‬ सो ‎भुला‬ दिया फिर‬ एक ही‬ शब्द याद‬ रहता है| ‎Wнo are you.

744. मेरा विरोध करना आसान है, पर मेरा विरोधी बनना संभव नहीं क्योकि जब भी मैं बिखरा हूँ, लोगों की हड्डीया तोड़ के निखरा हूँ |

745. वो पूरी life अपनी image बनाने में रह गए और हम पूरी gallary बना गए |

746. यू हमारी गैर हाजरी में आहे न भरा करो WhatsApp बनाया गया है मैसेज भेजने के लिए सिर्फ Last Seen देखा न करो |

747. खोए हुए हम खुद हैं, और ढूंढते भगवान को हैं |

748. शर्म की अमीरी से इज्जत की गरीबी अच्छी है |

749. मसला ये भी है इस ज़ालिम दुनिया का कोई अगर अच्छा भी है तो क्यूँ है |

750. मैं जब तक शराफत में रही तब तक हर पल आफ़त में रही।

751. उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी, जहाँ सारा शहर अपना था और तुम अजनबी |

752. दुनिया आपकी ” उदहारण ” से बदलेगी आपकी ” राय ” से नहीं |

753. ” रुतबा ” तो खामोशियों का होता है ” अलफ़ाज़ ” तो बदल जाते है लोगों को देखकर |

754. हम समंदर हैं, हमें खामोश ही रहने दो ज़रा मचल गये, तो शहर ले डूबेंगे |

755. लड़का अगर चाहे तो अपनी मोहबत को पाने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है लड़का अगर चाहे तो |

756. मतलबी दुनिया के लोग खड़े है हाथों में पत्थर लेकर मैं कहाँ तक भागूँ शीशे का मुकद्दर लेकर |

757. मुलाकात जरुरी हैं, अगर रिश्ते निभाने हो, वरना लगा कर भूल जाने से पौधे भी सूख जाते हैं |

758. या तो खरीद लो या खारिज़ कर दो दोस्तों यूँ किराए पर मत लिया करो मुझे |

759. इस स्वार्थी दुनिया में जीना है तो सोते हुए भी पैर हिलाते रहो वर्ना लोग मरा हुआ समझ कर जलाने में देर नहीं लगाएंगे |

760. न माँग कुछ जमाने से ये देकर फिर सुनाते है, किया एहसान जो एक बार वो लाख बार जताते है |

761. सख़्त हाथों से भी छूट जाते हैं हाथ रिश्ते ज़ोर से नहीं तमीज़ से थामे जाते हैं ।

762. कुछ इसलिए भी खामोश रहती हूँ कि जब बोलती हूँ तो धजियाँ उड़ा देती हूँ |

763. हजारों चेहरों में उसकी झलक मिली मुझको पर दिल भी जिद पे अड़ा था कि अगर वो नहीं, तो उसके जैसा भी नहीं |

764. जिसे आज मुजमे हजार एब नजर आते हे, कभी वही लोग हमारी गलती पे भी ताली बजाते थे |

765. दुनियादारी की चादर ओढ़ी है पर जिस दिन दिमाग सटका ना, इतिहास तो इतिहास भूगोल भी बदल देंगे।

766. मेरी हिम्मत को परखने की गुस्ताखी न करना, पहले भी कई तूफानों का रुख मोड़ चुका हूँ |

767. तू नया नया‬ है ‎बेटे‬ मैने ‎खेल‬ पुराने ‎खेले‬ है जिन लोगो‬ के दम पर तू उछलता ‬है वो मेरे‬ पुराने ‎चेले‬ है |

768. फिर याद आई उसकी फिर मैँ सब भूल गया |

769. सजा देनी हमे भी आती है ओ बेखबर‬, पर तू तकलीफ से गुज़रे, ये हमे मंजूर नहीं |

770. तू सचमुच जुड़ा है अगर मेरी जिंदगी के साथ तो क़ुबूल कर मुझे,मेरी हर कमी के साथ |

771. हर गुनाह कबूल हैं हमें, बस सजा देने वाला “बेगुनाह”हो |

772. हथियार तो शोंक के लिए रखे जाते हैं खौफ के लिए तो आँखें ही काफी हैं।

773. बहुत देखा है ज़िन्दगी में समझदार बनकर पर ख़ुशी हमेशा पागल बनकर ही मिली है।

774. दो चार लफ्ज प्यार के लेके मैं क्या करू”देनी है तो” वफ़ा की मुकम्मल किताब दे “ |

775. क्रोध आने पर चिल्लाने के लिए ताकत नहीं लगती बल्कि शांत होकर चुप रहने में लगती है।

776. ये तो अच्छा है कि ” दिल ” सिर्फ सुनता है अगर कहीं बोलता होता तो ” क़यामत ” आ जाती।

777. मेरे बाद किसी और को हमसफ़र बनाकर देख लेना तेरी ही धड़कन कहेगी कि उसकी वफ़ा में कुछ ओर ही बात थी।

778. लोग आपकी मजबूरी समझते हैं तभी तो उसका फायदा उठाते हैं |

779. दुनिया की सबसे बड़ी ग़लतफहमी : जब नसीब चलता है तो लोगों को गुमान हो जाता है कि उनका दिमाग चल रहा है |

780. शख्सियत अच्छी होगी तभी दुश्मन बनेंगे, वरना बुरे की तरफ देखता कौन है |

781. साँप घर पर आ जाए तो लोग डंडे मारते हैं और शिवलिंग पर दिखाई दे तो हाथ जोड़ते हैं लोग सम्मान आपका नहीं आपके स्थान और स्थिति का करते हैं |

782. जिनकी नज़रों में हम अच्छे नही, वो अपनी आँखो का इलाज करवाये |

783. इज़्ज़त इन्सान की नहीं ज़रूरत की होती है जरुरत खत्म तो इज़्ज़त खत्म |

784. दुनिया का सबसे कठिन शब्द ” वाह ” जब आप किसी के लिए इन्हे बोलते है तब आप अपने अहंकार को तोड़ते है |

785. बिखरा वज़ूद, टूटे ख़्वाब, सुलगती तन्हाईयाँ कितने हसींन तोहफे दे जाती है ये अधूरी मोहब्बत।

786. जरूरी तो बहुत है ईश्क जिन्दगी मे मगर ये जानलेवा जरूरत भगवान किसी को न दें |

787. एक उसूल पर गुजारी है जिंदगी मैंनें जिसको अपना माना उसे कभी परखा नही |

788. ए खुदा मोहूबत भी तूने अजीब चीज बनाए है, तेरे ही बन्दे तेरी मस्जिद में तेरे ही सामने रोते है, लेकिन तुजे नहीं किसी और को पाने के लिये |

789. फैसला हो जो भी, मंजूर होना चाहिए जंग हो या इश्क, भरपूर होना चाहिए |

790. सोचते है सीख ले हम भी बेरुखी करना सब से, सब को महोब्बत देते देते हमने अपनी क़दर खो दी है |

791. अगर नींद आ जाये तो सो भी लिया करो रातों को जगने से मोहब्बत लोटा नहीं करती |

792. तू वो ज़ालिम है जो दिल में रह कर भी मेरा न बन सका और दिल वो काफिर जो मुझमे रह कर भी तेरा हो गया |

793. तुझ से नहीं तेरे‬ वक़्त से नाराज हूँ जो कभी तुझे मेरे‬ लिए नहीं मिला |

794. भले नाम बड़ा नही है हमारा, लेकिन फिर भी आजतक हमने कभी काम छोटे नही किये |

795. साला स्मार्ट होने का बडा़ प्रॉब्लेम है लड़कियाँ देखते ही ये सोचती हैं इसकी तो पहले से 10-15 गर्लफ्रेंड होंगी |

796. अमीर तो हम भी बहुत थे, पर दॊलत सिर्फ दिल की थी खर्च भी बहुत किया ए दोस्त, पर दुनिया मे गिनती सिर्फ नोटों की हुई |

797. वास्ता नही रखना तो फिर मुझपे नजर क्यूं रखती है मैं किस हाल में जिंदा हूँ तू ये सब खबर क्यूं रखती है |

798. यूँ न देख नफरत से मुझे वही चेहरा है जिसे आपने टूट कर चाहा था |

799. हम बुरे ही भले अब जब अच्छे थे तब कौन से मैडल मिल गए |

800. ज़िंदगी में बहुत्त कष्ट है, फिर भी हम मस्त है |

4.8 (96%) 5 votes